Monday, 30 March 2015

जहाँ जहाँ जाऊँ मैं, उधर तू ही तू है,
यह तेरी नज़र,मेरी आरज़ू है।

Wherever I go, you are there
To be in your sight, is my desire.